दिवाली के दिन कोई भी बिजनेस शुरू करना अच्छा माना जाता है। लोग कई महीने तक दुकानों की ओपनिंग नहीं करते, क्योंकि दिवाली पर ओपनिंग सबसे शुभ होती है। इसके दो कारण हैं। एक तो दिवाली के वक्त अच्छा मुहूर्त होता है और दूसरा दिवाली के दौरान लगभग सभी लोग खरीददारी करते हैं ऐसे में अगर नया बिजनेस खोला तो खोलते ही मुनाफ़ा भी होने लगेगा। कस्टमर्स को लुभाने के लिये नई नई डील दी जाती हैं। भारी छूट होती है। आजकल ऑनलाइन सबसे ज्यादा सेल मिलती है। लोग दुकानों पर जाने की बजाय ऑनलाइन ज्यादा शॉपिंग करने में भरोसा रख रहे हैं। एक दूसरे को उपहार दिये जाते हैं। कर्मचारियों में बोनस बांटा जाता है। उपहार अगर लेने देने हैं तो उनको खरीदने में भी माथापच्ची करनी पड़ती है। मार्किट में इतना सामान है कि आप समझ ही नहीं पाते ही लेना क्या है। चलिये आपकी इस उलझन को हम थोड़ा दूर करने की कोशिश करते हैं। नीचे हमने कुछ ऐसी गिफ्ट आइटम्स लिखी हैं जो कि ज्यादातर लोग दिवाली के वक्त खरीदते हैं।

Related image

दिवाली पूजा थाली

दिवाली पूजा थाली एक डिजाइनर और नक्काशी वाली थाली होती है जिसमें कि पूजा का सारा सामान जैसे, तिलक, कलश, अगरबत्ती, सुपारी आदी होता है। ये देखने में बड़ी ही सुंदर लगती है।

आभूषण

सोना खरीदने को लेकर दिवाली का मुहूर्त अच्छा माना जाता है। इसलिये लोग सोने के आभूषण या सिक्के खरीदते हैं। अधिकतर लोग इस दिन पैसे की इन्वेस्टमेंट के तौर पर सोना खरीदते हैं।

कपड़े

कपड़े एक ऐसी जरूरत है जो कि हर किसी को खरीदन ही पड़ते हैं, लेकिन दिवाली के दिन सबको नए और साफ सुथरे कपड़े डालने होते हैं। ऐसे में कपड़े का गिफ्ट खरीदना और देना सबसे बढ़िया और सबसे आसान रहता है।

Image result for cloth sale delhi

घर का सजावटी सामान

दिवाली के वक्त हर कोई अपना घर साफ करता है। कहीं कोई रिपेयरिंग होनी है वो की जाती है। रंग अगर उखड़ा है तो वो दोबारा किया जाता है। घर को अच्छे से सजाया जाता है। घर में नया सजावटी सामान जैसे झूमर, मूर्तियां, लैम्प, लाइट्स बगैरह खरीदे जाते हैं। अगर आपको बढ़िया और अच्छा गिफ्ट लेना या देना है तो घर का सजावटी सामान सबसे अच्छा विकल्प है।

मोमबत्तियां

दिवाली का जब भी नाम आता है तो तीन चीजें सबसे पहले दिमाग में आती हैं। पहली पटाखे, दूसरे दीये और तीसरी मोमबत्ती। मार्किग में अलग अलग रंग की और साइज की मोमबत्तियां अच्छे दामों पर मिल जाती हैं। आजकल सुगंधित मोमबत्तियों का दौर चला हुआ है।

घरेलू सामान

घरेलू सामान जैसे मिक्सी, हीटर, कूलर, एसी, टीवी, पंखा बगैरह भी अच्छे दामों पर भारी छूट के साथ मिलता है। दिवाली के वक्त हर सामान पर कुछ ना कुछ ऑफर होता है जो आपको बाद में कभी नहीं मिलेगा।

जरूरत की चीजें

दिवाली पर अगर आपको वैसा गिफ्ट मिल जाए जैसा आप चाहते थे तो कैसा लगेगा। सबसे अच्छा गिफ्ट का विकल्प है मोबाइल फोन, पर्स, हैंडबैग, जैकेट, ब्रांडेड जूते, इयरफोन बगैरह।

Related image

पटाखे

बच्चों के लिये तो दिवाली तब तक दिवाली नहीं है जब तक कि पटाखे नहीं जले। आप इस दिन उपहार में पटाखे ले जाएं। आज कर तो तरह तरह के लाइट्स वाले पटाखे बाज़ार में हैं। इन पटाखों से आप ना जाने कितने बच्चों के मुहं पर मुस्कान ला सकते हैं।

चाकलेट, बिस्किट, मिठाई

दिवाली से पहले और दिवाली के दिन मिठाई एक दूसरे को दी जाती है। पूजा के लिये तो मिठाई खरीदनी ही होती है। साथ ही इन दिनों कई लार टपकाने वाली मिठाइयां भी मिलती हैं। बड़ी बड़ी मिठाइयों की दुकानों में तो कई दिन पहले ही बुकिंग शुरू हो जाती है। हालांकि मिठाइयों में मिलावट के डर से आजकल लोग एक दूसरेको बिस्किट और चाकलेट दे रहे हैं।

Related image

पत्नी को दिवाली गिफ्ट

आप अपनी पत्नी को कॉफी मग, रिंग, नेकलेस, किचेन की कुछ चीजें, कुकिंग सेट, उनकी पसंदीदा मिठाई, साड़ी, कुर्ती, शॉल, स्टोल्स या फिर घड़ी गिफ्ट दे सकते हैं। इसके अलावा, उनके पसंद की एक ड्रेस गिफ्ट करना भी अच्छा आइडिया रहेगा।

पति को दिवाली गिफ्ट

पति को कुछ गिफ्ट करना चाहती हैं तो दिवाली इसके लिए एक अच्छा दिन है। आप अपने पति को घड़ी, कॉफी मग, दिवाली गिफ्ट हैंपर, गोल्डन ब्रेसलेट, वॉलेट, लैपटॉप, मोबाइल, ग्रूमिंग किट गिफ्ट कर सकती हैं। इसके अलावा, आपके पति को जिस चीज की सख्त जरूरत है, वह गिफ्ट करना भी बेहतर रहेगा।

बच्चों को दिवाली गिफ्ट

अगर लड़का है तो वो गैजेट का शौकीन होगा उसे आप लैपटॉप, कंप्यूटर, मोबाइल, एमपी3 प्लेयर, रिमोट कंट्रोल टॉयज, चॉकलेट, किताबें, पेन सेट, विडियो गेम दे सकते है। वहीं लड़की है तो उसे ड्रेसेज, हेयर बैंड, हैंड बैग, डॉल, किचल सेट, सैंडिल, शूज, ज्वेलरी, साइकिल और मोबाइल दे सकते हैं।

दिवाली के दिन मार्किट में रौनक देखिये



To read this article in English, click here

Forthcoming Festivals

Download our free mobile app

Get festival updates on your mobile & Explore and enjoy the panorama of Festivals/Fairs/Melas celebrated in India.