सुरक्षित होली खेलने के टिप्स

भारत त्योहारों का देश है यहां हर साल कई त्योहार मनाए जाते हैं। भारत के सभी त्योहारों आपसी एकता और सौहार्द से जुड़े होते हैं जिनका एक ही उद्देश्य होता है खुशियां फैलाना। भारत के प्रमुख त्योहारों में से एक होली का त्योहार है। इस दिन हर जगह रंगों की धूम होती है, सभी प्यार से एक दूसरे को रंग लग्गते है, कई जगह तो लठ मार होली तो कई फूलो की होली खेली जाती है, इसके साथ इस दिन खान पान के लिए भी लोग बहुत सी चीजे बनाते है, जैसे की मालपुआ, गुजियां, पीने के लिए तरह तरह के शरबत आदि, और सब एक साथ बैठ कर इस दिन का आनंद लेते हैं।  एक तरफ जहां होली मस्ती, आनंद और रंगों का पर्याय है, वहीं दूसरी ओर कुछ लोगों के लिए यह बहुत सारी समस्याएं भी पैदा करता है। इन दिनों, होली का त्योहारा थोड़ा असुरक्षित हो रहा है क्योंकि त्योहार अपने वास्तविक सार पर खो रहा है। यह  त्योहार कोई सीमा नहीं जानता है और कभी-कभी लोग सीमाओं को पार कर इस सुंदर त्योहार को गंदा बना देते हैं। होली का त्यौहार रंगों से भरा हुआ होता है, जिसे पूरा देश उत्साह के साथ मनाता है, हर जगह रंगों की धूम और तरह तरह के पकवानों की सुगंध चारो तरफ होती है, इस प्यार से भरे त्यौहार को देखते खेलते समय आपको ध्यान रखना चाहिए की आप, सुरक्षित और प्यार से खेलें, क्योंकि कई बार यदि ध्यान न रखा जाएँ तो इसका खामियाज़ा भुगतना पड़ सकता है। होली को खुशी और खुशी के त्योहार के रूप में माना जाता है, लेकिन रंगों के साथ खेलते समय हमेशा सचेत रहना चाहिए क्योंकि अवांछित घटनाएं उस दिन की भावना को बर्बाद कर सकती हैं। साथ ही, व्यक्ति को हमेशा छोटी-छोटी सावधानियां बरतनी चाहिए ताकि किसी को भी इस प्रक्रिया में चोट न पहुंचे। जहाँ इस त्यौहार को लोग उत्साह से मनाते है, वही उन्हें ध्यान भी रखना चाहिए की आप इसे सुरक्षित तरीके से खेलें, क्योंकि कई बार मस्ती में ही लोग त्यौहार के मजे को किरकिरा कर देते है, और साथ ही आपको इस बात का ध्यान रखा चाहिए की आप होली खेलते समय ऐसी कोई भी गलती न करें, जिसके कारण आपको इसका कोई खामियाज़ा भुगतना न पड़ें, तो आइये जानते है कि सुरक्षित होली खेलते समय आपको किन किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

 

होली पर ऐसे करें स्वंय को सुरक्षित

सुरक्षित होली खेलने के टिप्स


  • होली के दिन दांतों को रासायनिक रंगों से धुंधला होने से बचाने के लिए डेंटल कैप एक अच्छा विचार है।
  • धूप का चश्मा आपकी आंखों को हानिकारक रंगों से सुरक्षित रखने में एक अहम भूमिका अदा कर सकता है।
  • पुराने और कटे-फटे कपड़े पहनें जिन्हें आप आसानी से त्याग सकते हैं, क्योंकि आपके कपड़े उन सभी रंगों के दागों के साथ दोबारा पहनने योग्य नहीं रह पाते।
  • इस दिन चमकीले और गहरे रंग के कॉलर वाले कपड़े पसंद किए जाने चाहिए।
  • होली के रंगों से आपके बाल और सिर की त्वचा खराब हो सकती है, इसलिए रंगों से खेलने से पहले आप सिर और बालों में तेल लगा सकते हैं या कैप (टोपी) पहनकर उन्हें सुरक्षित रख सकते हैं। केवल जैविक (ऑर्गेनिक) तरीके से बनाए रंगों का ही प्रयोग करें, सबसे अच्छे हैं प्राकृतिक सामग्रियों से बने रंग।
  • होली में रंगों से खेलने से पहले मॉइचराइजिंग लोशन, जैतून (ऑलिव) या नारियल का तेल त्वचा पर लगा लें। इससे आपकी त्वचा सुरक्षित भी रहती है और बाद में रंग छुड़ाना भी आसान हो जाता है। आप एक वॉटरप्रूफ सनस्क्रीन लोशन का भी प्रयोग कर सकते हैं। यदि आप कॉन्टैक्ट लेंस पहनते हैं तो होली खेलने से पहले उन्हें निकालकर कर रख दें।
  • आंखों में रंग चले गए हों तो उन्हें ठंडे पानी से धो लें। चमकदार, स्वस्थ बालों को दोबारा पाने के लिए सिर पर अंडे की जर्दी या दही मलकर धो सकते हैं।
  • होली मनाने के बाद अपने आपको साधारण पानी और साबुन से साफ करें। कठोर साबुन, डिटर्जेंट या अन्य केमिकल का उपयोग करने से बचें, इनसे भी त्वचा को नुकसान पहुंच सकता है।
  • चेहरे की चमक दोबारा पाने के लिए शहद के साथ नींबू का रस मिलाकर प्रयोग करें या बेसन, हल्दी और दही का एक प्राकृतिक फेस पैक बनाकर लगाएं।
  • फुल-स्लीव वाली टी-शर्ट या शर्ट पहनें, जो आपकी बाहों और यहाँ तक कि शरीर की भी रक्षा करें,  यह एक अच्छा विचार हो सकता है
  • होली में आप पर्यावरण के अनुकूल रंगों का उपयोग कर सकते हैं।
  • हमेशा हानिकारक रंगों के दुष्प्रभाव से आपकी त्वचा को रोकने के लिए अपने सिर के बालों पर तेल लगाएं और शरीर पर लोशन लगाएं। इसके अलावा, उन्हें दाग-धब्बों से दूर रखने के लिए नेल पेंट की मोटी कोटिंग लगा सकते हैं।
  • एक सुरक्षित होली खेलनी चाहिए और जब कोई उन पर रंगों से हमला करता है तो उनकी आंखें और मुंह बंद रखना चाहिए। होली पर यात्रा करने से बचें।
  • एक टोपी या ऐसा कुछ भी उपयोग करें जो आपके बालों को कठोर रगों से रंगने से बचाने में मददगार हो। ए।
  • अनजान समूहों से न टकराएं और न ही सड़कों पर उतरें।
  • अपने शरीर से रंग को धोने के लिए गुनगुने पानी का उपयोग करें।


होली पर ये करें।

सुरक्षित होली खेलने के टिप्स

  • अपने बच्चों को अंडे, मिट्टी या गुब्बारे के साथ होली खेलने के लिए प्रोत्साहित करें।
  • यदि आप नहीं चाहते हैं कि आपके बच्चे और परिवार होली में भाग लें, तो घर पर एक अच्छा और शांत अवकाश बिताएं।
  • किसी को जबरदस्ती दूसरों के साथ होली नहीं खेलनी चाहिए और समूह में बच्चों की देखभाल करनी चाहिए उन पर रंग नहीं फेंकना चाहिए।
  • यदि आप भांग पीना चाहते हैं तो सीमित मात्रा में ही पीएं क्योंकि इसके अधिक सेवन से नशा हो सकता है।
  • उपद्रवी होली पार्टियों से बचें, जो पार्टी के मूड को खराब कर सकते हैं।
  • होली केवल करीबी दोस्तों और रिश्तेदारों के समूह के साथ खेलें, न कि अनजान लोगों के साथ।
  • केवल चूर्ण रंग और पानी का उपयोग करें।
  • अपने बच्चों के लिए पानी की एक बड़ी बाल्टी रखें, ताकि वे किसी अन्य स्त्रोत का सहारा न लें।
  • अपनी कार चलाते समय अपनी खिड़कियों को बंद रखें।
  • किसी भी अवांछित दृश्य या होने से बचने के लिए होली की सुबह एक ही स्थान पर रहें।
  • होली के सांस्कृतिक महत्व को जानने के लिए हमेशा कुछ समय निकालें। यह रंगो का त्योहार है, वसंत के मौसम का एक अग्रदूत है, न कि इस खेल को गंदा बनाएं इस खेल का आनंद ले।



 खेलने के दौरान बरतें ये सावधानियां: 

सुरक्षित होली खेलने के टिप्स
  • नेचुरल रंगों का इस्तेमाल करें।
  • बहुत अधिक गहरे रंगों का इस्तेमाल न करें। इनमें केमिकल्स होने की आशंका अधिक होती है। जिससे स्किन एलर्जी, एक्ज‍िमा और बालों से जुड़ी समस्या हो सकती है।
  • सुरक्षित होली खेलें। ध्यान रखें कि होली का रंग आपके मुंह, नाक और आंख में न जाए।वरना सांस लेने में दिक्कत हो सकती है और आंखों में जलन हो सकती है।
  • भांग और एल्कोहल से दूर रहने में ही भलाई है। इनके सेवन से डीहाइड्रेशन होने का खतरा होता है।
  • रंग छुड़ाते समय बहुत अधिक साबुन का इस्तेमाल न करें। इससे त्वचा संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।
  • रंग छुड़ाते समय मुंह और आंख बंद रखें। ध्यान रखें कि रंग का पानी कान में न जाए।
  • बच्चे जब रंग खेलने जाएं तो उनके साथ किसी बड़े का होना जरूरी है।
  • अगर आपको जलन महसूस हो रही हो, धुंधलापन लग रहा हो, सांस लेने में दिक्कत हो रही हो तो तुरंत अपने करीबी डॉक्टर से संपर्क करें। 

 
To read this Article in English Click here

Forthcoming Festivals

Download our free mobile app

Get festival updates on your mobile & Explore and enjoy the panorama of Festivals/Fairs/Melas celebrated in India.