भारत एक त्यौहारों की भूमि है। यहां विभिन्न धर्मो, विभिन्न जातियों और वर्गों के लोग एक साथ मिल-जुल कर रहते हैं। भारत का हर दिन किसी त्यौहार से कम नहीं होता। यहां विभिन्न धर्मों एवं समुदायों के त्यौहार साल भर मनाए जाते हैं। भारत में जितने राज्य हैं, उतनी ही भाषाएं और उतनी ही बोलिया हैं। यहां कदम-कदम पर हवा अपना रुख बदल लेती है। कहीं गर्मी हो रही होती है तो कहीं ठंडक का एहसास होता है। कहीं समुद्र की सुंदरता आपका मन मोह लेती है तो कहीं पहाड़ों की छंटा भारत के निराले रंग दिखा झूमने पर मजबूर कर देती है। भारत विविध होकर भी एक है। वो है यहां की राष्ट्रीय एकता। भारत में धार्मिक त्यौहारों के साथ-साथ कई राष्ट्रीय त्यौहार भी मनाए जाते हैं जो भारत को उसकी पहचान याद दिला कर गौरवान्तित करते हैं। भारत के इन राष्ट्रीय त्यौहारों के माध्यम से पूरा देश एक हो जाता है। यहां के विभिन्न धर्म, विभिन्न जातियां एक होकर भारतीय बन राष्ट्रीय त्यौहारों का जश्न मनाते हैं। यह राष्ट्रीय त्यौहार भारत के लोगों को एक साथ जोड़कर रखते हैं। भारत के गौरवशाली इतिहास को यह राष्ट्रीय त्यौहार प्रदर्शित करते हैं। फिर वो चाहे स्वतंत्रता दिवस हो या गणतंत्र दिवस। भारत के प्रत्येक राष्ट्रीय त्यौहार में हर भारतीय तहे दिल से सम्मलित होकर इसका जश्न मना अभिवादन करता है। भारत के राष्ट्रीय त्यौहार भारत के लोगों को एकत्रित कर उनमें राष्ट्र भावना का प्रचार प्रसार करने का एक जरिया है। यह त्यौहार भारत के प्रति सम्मान की भावना तो पैदा करते हीं है साथ ही देशवासियों और विदेशों में रह रहे भारतियों के ह्रदय में भी देशभक्ति की भावना का संचार करते हैं। भारत में मुख्य रुप से तीन राष्ट्रीय त्यौहार मनाए जाते हैं जो क्रमशः स्वतंत्रता दिवस, गणतंत्र दिवस और गांधी जयंती है।


15 अगस्त/स्वतंत्रता दिवस - 15 अगस्त का दिन भारत के लिए बहुत खास दिन होता है। सन 1947 में आधी रात के समय जब संपूर्ण विश्व सो रहा था तब भारत ने 200 साल ब्रिटिश गुलामी सहने के बाद आजादी पाई थी। भारत उस रात जग कर जीत का जश्न मना रहा था। तब से प्रत्येक 15 अगस्त को भारत का स्वतंत्रता दिवस मनाया जाता है। जो यह प्रतिक है कि किस तरह भारत ने शहीदों और देशभक्तों की कुर्बानियों के बदौलत स्वतंत्रता की प्राप्ति की थी। इस दिन को भारत का गौरव माना जाता है और प्रत्येक भारतीय इस दिन का जश्न मनाता है।

26 जनवरी/गणतंत्र दिवस - 26 जनवरी यानी कि गणतंत्र दिवस। यह वो दिन है जब भारत ने सन 1950 में अपना संविधान यानि देश का कानून पारित किया था। इसी दिन से देश में संविधान लागू हुआ था। आज भी प्रत्येक 26 जनवरी को भारत अपना गणतंत्र दिवस मनाता है जिसमें भारत के विभिन्न राज्यों की झांकिया निकलती है साथ ही भारत ने अब तक क्या-क्या उपलब्धियां हासिल की है यह भी इस दिन दर्शाया जाता है। यह दिन प्रत्येत भारतिय के लिए गौरवशाली दिन होता है।

2 अक्टूबर/गांधी जयंती – 2 अक्टूबर को हर भारतीय गांधी जयंती के रुप में जानता है। क्योंकि इसी दिन भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में अहम भूमिका निभाने वाले राष्ट्र पिता महात्मा गांधी का जन्म हुआ था। सनृ 1869 में गुजरात के पोरबंदर में मोहन दास करमचंद गांधी के रुप में इस देश के राष्ट्र पिता का जन्म हुआ था जिन्हें उनके योगदान के लिए राष्ट्रपिता की उपाधी से नवाजा गया था। गांधी जयंती का दिन प्रत्येक भारतिय के लिए गौरव का दिन होता है। गांधी जी ने भारत को स्वतंत्रता दिलाने में अहम भूमिका अदा की थी।

Forthcoming Festivals

Download our free mobile app

Get festival updates on your mobile & Explore and enjoy the panorama of Festivals/Fairs/Melas celebrated in India.