ईद उल जुहा जिसके की बक़रीद भी कहा जाता है, उसमें अपने सबसे प्रिय जानवर की बलि दी जाती है। अधिकतर बकरे की कुर्बानी दी जाती है। बाद में बकरे का मीट पड़ोसियों, रिश्तरेदारों और गरीबों में भी बांटा जाता है। ब़करीद पर बकरे के अलावा और भी कई पकवान बनते हैं आइये जानते हैं उनकी विधि और सामग्री

बोटी कबाब

बोटी कबाब एक मुगलई पकवान है जो कि बहुत ही लजीज होता है।

Image result for boti kabab

सामग्री

मटन, मिर्च, दालचीनी, जायफल, इलायची, प्याज, पोस्ता दाना, जीरा, पपीते का पेस्ट, भुना बेसन, दही, केवड़ा, अदरक पेस्ट, लहसुन पेस्ट, घी, तेल, लाल मिर्च पाउडर, पानी और धनिया।

बनाने की विधि

-एक पैन में पोस्‍ता दाना, जीरा, साबुत धनिया मिला कर रोस्‍ट कर लें। फिर इसे पीस लें।
-एक कटोरे में मटन पीस को कच्‍चे पपीते, लहसुन, अदरक पेस्‍ट और नमक मिला कर 5-6 घंटे के लिये मैरीनेट कर लें।
जब भुने मसाले का पाउडर तैयार हो जाए तब उसमें दाल चीनी, जायफल, हरी इलायची और थोड़ा सा पानी मिला कर पेस्‍ट तैयार करें।
-इस पेस्‍ट के साथ फ्राई किये हुए प्‍याज के लच्‍छे भी मिक्‍स कर दें और फिर से पेस्‍ट को ग्राइंड करें।
-अब पैन लें, उसमें थोड़ा सा तेल और घी गरम करें। फिर उसमें मटन डाल कर कुछ देर के लिये पकाएं।
-इसमें दही और केवड़ा जल तथा मैरीनेट वाली बची हुई पूरी सामग्री डाल कर मिक्‍स करें।
-ऊपर से मसालों वाला पेस्‍ट डाल कर मिक्‍स करें तथा 20 मिनट तक धीमी आंच पर पकाएं। फिर इसमें दही, लाल मिर्च पावडर मिक्‍स करें।
-अब एक छोटे कटोरे में बेसन और थोड़ा सा पानी मिला कर पेस्‍ट बनाएं। इस पेस्‍ट को मटन में डालें और मिक्‍स करें।
-ऊपर से कटी हरी धनिया से गार्निश करें।

फिश कबाब

फिश कबाब का नाम आते ही मुंह में पानी आ जाता है। ये इतनी चटपटी होती है कि खाने वाले खाते ही रह जाते हैं।

Image result for fish kabab

सामग्री

मछली, हल्दी, जीरा, तेल, अदरक, दही,हरीमिर्च और नमक

बनाने की विधि

सबसे पहले मिक्‍सी में मैरीनेड तैयार करें। इसको अच्‍छे से पीस लें और पेस्‍ट तैयार कर लें। फिर मछली के छोट टुकड़ों एक कटोरे में डाल कर उसके ऊपर तैयार पेस्‍ट को डाल कर मिक्‍स करें। फिर इस कटोरे को ऊपर से प्‍लास्‍टिक कवर लगा कर फ्रिज में 4 से 8 घंटों के लिये रखें।अब मछली को निकाल कर तब तक ग्रिल पर भुनाएं जब तक कि वो अंदर से पक ना जाए।
ऊपर से बटर लगा दें जिससे मछली के टुकड़े चिपके नहीं। आपका फिश कबाब तैयार है। अच्छे से सजाएं और परोसें।


To read this article in English, click here

Forthcoming Festivals

Download our free mobile app

Get festival updates on your mobile & Explore and enjoy the panorama of Festivals/Fairs/Melas celebrated in India.